सबसे सस्ती आयुर्वेद का सर्वश्रेष्ठ रसायन जो आपको हमेशा जवान रखेगा| aawla ke fayde aur nuksaan

आज हम बात करेगे आयुर्वेद के ऐसे रासायन के बारे में जो हमे जवान रखने मे मदद करती है । रुकिए रुकिए ये कोई बहुत महंगी दवा नहीं है ये बहुत ही सस्ते दामों मे मिलने वाली ऐसी औषधि है जो आपको जिंदगी भर जवान रखेगी आयुर्वेद में इसे रसायन कहा गया है और जवान रहने के लिए सर्वश्रेष्ठ औषधि कहा गया है। सबसे सस्ती आयुर्वेद का सर्वश्रेष्ठ रसायन जो आपको हमेशा जवान रखेगा| medicin to keep you forever young

लोग लंबे समय तक जवान रहने के लिए बहुत सारे जातन करते है जैसे मल्टी विटामिन कैल्सीयम टॉनिक चूरन चटनी स्पा जाना मसाज क्रीम लगाना और भी ना जाने क्या क्या करते रहते है । ताकि लंबे समय तक जवान या फिर यंग बने रहे । तो आज मैं आपसे शेयर करूंगी आपके इस समस्या का समाधान आयुर्वेद के अनुसार जिसे आचार्य चरक के सूत्र स्थान के 25 वे अध्याय मे कहा गया है की जवान रहने की जितनी भी दवाई है विश्व मे आवल उसमे सर्वश्रेष्ठ है ।

कच्चा आंवला खाने के फायदे

संस्कृत मे आमलकी कहा गया है आवल को। आवल हिन्दी नाम है । हम लोग बहुत लकी है जो हम ऐसे देश मे रहते है जहा आमलकी बहुतायत से पाया जाता है । और बहुत ही सस्ते दामों मे पाया जाता । परंतु हम भारतीयों की आदत है महंगे चीजों की ओर भागने की महंगे महगे फल खाते है ये सोचकर ये बहुत फायदेमंद है पर आवला जो की गुणों का खान है उसे नहीं खाते । इस समय तो मौसम है आवल का हर जगह आपको दिख जाएगा आंवला। तो आइए पहले जानते है ऐसे हैरान करने वाले फायदे इसके जिसको जानकर आप तो निकल लेगे झोला लेकर आंवला खरीदने ।

आयुर्वेद मे आंवला उन खास दवाइयों मे से है जिनमे 6 मे से 5 रस मौजूद है लवण रस को छोड़ कर पूरे 5 रस सिर्फ एक आवlला में मौजूद है तिक्त कटु कसाय मधुर खट्टा सिर्फ लवण रस नहीं है ।

आंखोके लिए आंवला के फायदे

इसके बारे में सुश्रुत ऋषि कहते है ये आँखों के लिए सर्वश्रेष्ठ टॉनिक आंवला है । और इस आवले से बनने वाल त्रिफला अगर शहद और घी मिलाकर विषम मात्रा में लिया जाए तो सबसे बेस्ट टॉनिक है आँखों के लिए है ।

धातु को बढ़ाने में आंवला के फायदे

आवला शरीर की धातुवों को बढ़ाता है जैसे की शुक्र धातु आज की डेट मे बहुत से लोग इस समस्या से ग्रसित है । और ठंडीयो का मौसम सबसे अच्छा समय है उत्तम संतान प्राप्ति का या फिर सेक्शुअल लाइफ के लिए अच्छा है क्योंकि आवले का सेवन आपके शरीर की धातुवों को बढ़ाता है । और अगर शुक्र धातु कमजोर हो गई है तो आवले के सेवन से शुक्र धातु की क्वानटिटी और क्वालिटी दोनों बढ़ती है ।

सर्वदोषघ्न सभी दोषों का नाश करने वाली

आवले के सेवन से सभी दोषों का नाश होता है यह वात पित्त और कफ तीनों दोषों को कंट्रोल करने की ताकत है ।

लिवर के लिए आंवला के फायदे

बॉडी के अलग अलग संस्थान पर अलग अलग इफेक्ट देखने को मिलते है इसके, जैसे पाचन संस्थान मे अगर हम आवल खाए तो ये दीपन अग्नि को बढ़ाता है और अगर अम्ल पित्त एसिडिटी के रोग मे जो लोग आवला खाते है उनके लिए लाभकारी होता है यह लिवर को ऐक्टिव करता है और लिवर की बीमारी में में बहुत फायदेमंद

आंवला के फायदे बालों के लिए

आंवला आपके बालों के लिए भी बहुत फायदेमंद है अगर आप आवला का सेवन करते है तो आपके बाल घने काले होंगे साथ ही अगर सफेद बालों की समस्या हो गई है उम्र से पहले तो आवल खाए भी और लगाएं भी

हृदय के लिए आंवला के फायदे

यह हृदय के लिए भी बहुत फायदेमंद है यह ब्लड purifier है

स्त्रियों का गर्भाशय कमजोर है तो आवल उनक गर्भाशय को बाल्य देता है और सोम रोग यानि श्वेत प्रदर मे भी फायदेमंद है । अगर व्हाइट discharg की परेशानी है तो ऐसे में आंवला का सेवन लाभकारी है

मूत्र रोग में आंवला के फायदे

आवल खाने से युरीनरी सिस्टम मे फायदेमंद है शुगर के मरीज को जिनको बहुत ज्यादा पेशाब होता है उनके लिए फायदेमंद है अगर बहुत ज्यादा पेशाब होता है तो आवल और हल्दी खाए तो फायदेमंद है अच्छा न लगे तो शहद भी मिल सकते है । जो बार बार पेशाब जाने की परेशानी है उसमे फायदेमंद है ।

त्वचा पर आंवला के फायदे

जो भी त्वचा रोग है उन्मे भी फायदेमंद है आंवले को पापहर भी कहा गया है और जो स्किन के रोग उनके होने का एक कारण पूर्व जन्म का पाप भी कहा गया है तो आवल पापहर भी है ।

जिनको त्वचा की तकलीफ है ऐसे लोग नहाते समय आवल पाउडर पानी मे मिलकरके उस पानी से नहाए या फिर आंवला का मौसम है तो आवल ले आइए उसका पेस्ट बनाइये और उसे त्वचा पर लगाके फिर पानी से स्नान कर सकते है

सभी धातुवों को पोषण देता है आंवला

ये सातों धातुवों को तो पोषण देता ही है परंतु ये मज्जा धातु जिससे हमारा ब्रेन आँख बनी हुई है उसको पोषण देने का काम करता है ।

और शुक्रधातु को पोषण देता है

गठिया के दर्द से दिलाये राहत आंवला (Amla Benefits to Get Relief from Arthritis in Hindi)

गठिया में जोड़ों में दर्द और सूजन हो जाता है। इस परेशानी से सबसे ज्यादा बड़े-बूढ़े ग्रस्त होते हैं। इसमें 20 ग्राम सूखे आंवले और 20 ग्राम गुड़ लें। इसे 500 मिली पानी में उबाल लें। 250 मिली पानी शेष रहने पर छानकर सुबह शाम पिएं। इससे गठिया में लाभ होता है। इस दौरान नमक का सेवन ना करें।

इसलिए आवले का रोज सेवन करना बेस्ट है

यह एकमात्र ऐसा फल है जिसे खाने के पहले खाने के बाद खाने के बीच मे कभी भी खा सकते है

इसकी कई सारे टॉनिक बनाए गए है जैसे च्यवन प्रशधात्री रसायन धात्री लौह अमलकी इन सभी आयुर्वेदिक दवाइयों का बेस इनग्रेडिएंट आवल है इसेलिए चरक ऋषि विशेष औषधियों मे आवले को विशेष स्थान दिया है ।

ठंडीयो के मौसम मे जब आजकल अउपलब्ध है तो आंवला सभी फॉर्म मे उपयोग कर सकते है । आवले को खाने का बेस्ट समय खाली पेट लेना बेस्ट रहता है

1 साल के उम्र के ऊपर है और चाहते है त्वचा बाल शरीर सब अच्छा रहे तो आवला जरूर खाइए ।

आंवला ठंडा है या गरम

आवले की तासीर ठंडी है

Leave a Reply

%d bloggers like this: