Crack heels homemade remedy | best crack heels home remedy at home in hind

सर्दियां आते ही फटी एडियों की समस्या आम है खासकर औरतों में। फटी हुई एड़ियां देखने मे तो खराब लगती है कभी कभी बहुत दर्दभरी भी होती कुछ लोगो को तो खून भी निकलने लगता ।इतनी ज्यादा बुरी स्थति हो जाती और ऐसे में कोई बाजार की क्रीम या तेल फायदा नही करता है ।इस आर्टिकल मे हम एडियों के फटने के कारणऔर उसके उपचार दोनो के बारे में बताएंगे और एक बहुत ही अच्छी क्रीम बनाना बतायेगे जो कि आपके घर मे मौजूद सामग्री से ही आराम से बन जायेगा ।

एड़ियों का फटना क्या है? (What is Cracked Heel in Hindi?)

जब आपके पैरों के तलवों और एड़ियों की त्वचा रुखी हो जाती है, तो यह फट जाती है। पैरों में रूखापन होने के कारण एड़ियों में दरारे पड़ जाती हैं। इसे ही एड़ियों का फटना कहते हैं।

Only one habbit keep you forever young | बस एक आदत जो रखे आपको हमेसा जवान

एड़ियां फटने के कारण (Cracked Heel Causes in Hindi)

एड़ियों के फटने (बिवाई) के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं-

Winter foods and routine for good health

  • आयुर्वेद के अनुसार जब शरीर में वात दोष बहुत बढ़ जाता है तो त्वचा में रूखापन आ जाता है जिसकी वजह से हाथ पैर होंठ फटने लगते हैं
  • पैरों में नमी की कमी होने की वजह से हाथ पैर में दरारे आने लगती हैं ।
  • अधिक गर्म पानी से नहाने से हमारे शारीर का नेचुरल आयल निकल जाता है जिसकी वजह से भी त्वचा फटने लगती है
  • शारीर में विटामिन, मिनरर्ल्स आदि की कमी होने पर भी त्वचा फटने लगती है ।
  • पैरों की देखभाल ठीक से नहीं करना भी एक कारन है एडियों के फटने के  
  • पोषण रहित आहार का सेवन करना।
  • पैरों को अधिक गर्म पानी में देर तक रखना।
  • बिना जूते-चप्पल के चलने से भी एड़ियां फटती हैं।
  • एड़ियां फटने का कारण शुष्क हवा भी हो सकती हैजो की हमारे स्किन के आयल को ड्राई क्र देती है जिसकी वजह से एड़ियाँ फटने लगती हैं ।
  • हमारे खाने में हरी पत्तेदार सब्जियाँ एवं फलों का ना होना भी एक कारण है
  • लम्बे समय तक खड़े रहने से पुरे शारीर का भर हमारे पैरों पर पड़ता है जिसकी वजह से भी एड़ियां फट सकती हैं.
  • शरीर में कैल्शियम की कमी का होना भी एड़ियां फटने की मुख्य वजहहो सकती है।
  • पैरों में ऐसे साबुन का प्रयोग करना, जिसमें बहुत सारे केमिकल हों।
  • अत्यधिक जंक खाद्य पदार्थ जैसे पिज्जा, बर्गर आदि का सेवन करने से।
  • गलत जुटे और चप्पल का चुनाव करने से ना सिर्फ आपके पैरों को दर्द देते हैं, बल्कि एड़ियां फटने का भी एक कारण होते हैं।
  • बढ़ती उम्र में फटती एड़ियों की समस्या ज्यादा होती है। इसका कारण त्वचा में रूखापन वात का बढ़ना है।
  • जब आप भरपूर मात्रा में पानी नहीं पीते हैं, तो शरीर में पानी की कमी की वजह से भी एड़ियां फट जाती हैं।
  • मोटापा, सोराइसिस और अर्थराइटिस जैसी बीमारियों की वजह से भी एड़ियां फटने की शिकायत हो सकती है।
  • अत्यधिक रूक्ष भोजन का सेवन करने से शरीर में रूखापन आ सकता है, जिसकी वजह से एड़ियां फट सकती हैं।

उपचार :

dry cough treatment at home

एडियाँ न फटें उसके लिए हमें ऐसा भोजन करना चाहिए जिससे वात दोष न बढे .वात दोष में कैसा खाना खाना चाहिए कैसे दिनचर्या होनी चाहिए इसक बारे में पुती जानकारी इस आर्टिकल में डी गई है आप पढ़ सकते है .शारीर में जब भी वाट दोष बढेगा शारीर में रूखापन और हाथ पैर फटने की समस्या आएगी ही .

  • अपने खानपान को भी सही करे पोषण से भरपूर चीजें लें
  • अपना वजन को भी नियंत्रित करें ।बहुत देर तक खड़े होकर काम करने से बचें .
  • पानी को मात्रा बढ़ाएं शरीर में नमी बनी रहे उसके लिए पानी पीते रहें .
  • अपने हाथ पैरों को हमेसा अच्छे से साफ करके तेल लगाए या कोई भी चिकनी चीज जिससे नमी उपर से बनी रहै।
  • अगर आपके हाथ पैर बहुत फट रहें है और टाइम नही है की ज्यादा कुछ देखभाल कर पाएं तो यहाँ हम आपको एक क्रीम बनाने की विधि बता रहें है इसे बनाकर रख ले ये एक हफ्ते के अंदर ही आपके हाथ पैरों को बच्चों की स्किन जैसे सॉफ्ट बना देगा

crack cream बनाने की विधि

सामग्री

वैसलीन: 1 चम्मच

shea बटर या साधारण बटर 1 चम्मच

विटामिन E: 4

कैस्टर आयल: आधा चम्मच

शहद: आधा चम्मच

एक कटोरी में shea बटर या बटर लेकर उसे डबल बोईलर में या ओवन में गर्म कर ले ताकि पिघल जाये और क्रीम बनाने में आसानी हो .अगर आपके पास सीया बटर न हो तो आप घर में दूध दही से बना नार्मल बटर भी ले सकते है या फिर बाजार से बिना नमक वाला बटर लाकर उसका भी उपयोग कर सकते हैं अब इस बटर में एक चम्मच वैसलीन तीन से चार विटामिन e को गोलियों का तेल निकाल कर डाल लें आधा चम्मच अरंडी का तेल (castor oil)कैस्टर आयल ले ले और आधा चम्मच शहद ले एक चुटकी हल्दी भी डाल लें

VAAT PRAKRITI

अब इन सब सामान को अच्छे से मिला दें ताकी एक क्रीम की तरह मिश्रण आपको मिल जाये अब इसे किसी डिबिया में भर कर दिन में रात में जब भी मौका मिले आप जरुर लगायें .

ये क्रीम एक हफ्ते के अंदर ही आपके हाथ पैर को एकदम मुलायम बना देगी

वैसलीन : 

पेट्रोलियम जेली त्वचा को अच्छी तरीके से नम बनाए रखने में मदद करती है,यहाँ त्वचा में नमी को लॉक रखता है.

शिया बटर

शिया बटर स्किन की रूखेपन को ख़त्म करके  स्किन में नमी बनाये रखता है और स्किन को मुलायाम बनाने का काम करता है. इसके इस्तेमाल से स्किन का रूखापन दूर होता है और स्किन को नमी मिलती है.शिया बटर अगर unrefiend हो तो बहुत अच्छा है इसमें विटामिन इ होता है और ये सर्दियों में त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होती है ये स्किन के लिए बहुत फायदेमंद है और जो ड्राई स्किन है उसको हटाने का भी काम करता है है इसमें फैटी एसिड है जो अप्लाई करने पर त्वचा पर एक अच्छी लेयर बना देता है जिससे बाहर के रूखेपन से बचाता है ये दर्द को भी कम करता है .यह पेन absorver का काम भी करता है

कैस्टर आयल

ये बहुत ही गाढा चिपचिपा तेल होता है इसका उपयोग अक्सर लिप बाम में होता है कैस्टर आयल त्वचा में नमी को लॉक रखता है स्किन को रुखा नही होने देता जिससे क्रैक की समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करता है

विटामिन E

health benfits of til (sesame seed)

विटामिन इ के फायदे तो सभी को पता होगे स्किन के लिय बहुत ही अच्छी होती बहुत सारे ब्यूटी प्रोडक्ट में इसका उपयोग होता है .

शहद

शहद antibactirial होता है और स्किन पर एक लेयर बनता है स्किन में नमी बनाये रखता है ।

Read More

Leave a Reply

%d bloggers like this: