Lauki ke faayde (Benfits Of Bottlegourd)

लौकी एक तरह की सब्जी है। वैसे तो सभी हरी सब्जियां लाभदायक होती है स्वास्थय के लिए,पर सबके अपने अपने फायदे होते और सबमे अलग अलग तत्त्व पाए जाते हैं  आइये हम आज लौकी के गुणों के  बारे में जाने, इसमें कौन- कौन से तत्त्व पाए जाते हैं और ये किन- किन रोगों में लाभदायक होता ,इसके क्या- क्या गुण है बहुत से लोग लौकी खाना पसंद नहीं करते अगर ऐसी बात है तो आप अपनी पसंद को थोडा सा बदलिए और लौकी को अपने खाने में शामिल करिए क्योकि यह स्वास्थय क लिए बहुत ही लाभदायक सब्जी है। लौकी एक बेल है जो कही भी उगाई जा सकती आप इसे एक गमले में भी उगा सकते और ये बहोत जल्दी तैयार भी हो जाती इसको हम सलाद क रूप में कच्चा भी खा सकते जूस निकल कर भी पि सकते सूप बनाकर हलवा बनाकर रायता बनाकर भी खा सकते इसे कच्चा या पका के दोनो तरह से खाया जा  सकता है। 

Lauki ke faayde (Benfits Of Bottlegourd)

1) लौकी त्वचा की कांती को बढाता है।  जिसको अपने चेहरे को सुन्दर बनाना कांति  लाना, वो रोज 200   एम     एल  लौकी के रस का सेवन करे।

2) लौकी के रस में तुलसी पत्ता और पुदीना मिलाकर पिने से ह्रदय के  रोग में फायदा होता है।

3) लौकी गुर्दे क रोग में लाभदायक  होता पेसाब खुलकर आता क्योकि इसमें  पोटैसियम होता  है।

4) लौकी में खनिज लवड  पर्याप्त मात्रा में मिलता है।

5) लौकी केलोस्ट्रोल को भी नियंत्रित करता है।

6) लौकी में एन्टीओक्सिडेंट पाया जाता है इसमें बीटा केरोटिन  एन्तटीओक्सिडेंट पाया जाता है।

7) लौकी शुगर क रोग में बहुतत ही लाभदायक होता है डाक्टर भी शुगर के  रोगियों को लौकी खाने की सलाह       देते है।

8) लौकी हमारे दिमाग को भी आराम देता है इसमे दिमाग को आराम देने वाले मिनरल्स होते है।

9) लौकी में प्रचुर मात्र में फाईबर होता है जिससे पेट साफ़ रहता है  अगर पेट साफ़ रखना हो तो आप लौकी का     सेवन कर सकते है

10) लौकी के बीज आयरन जिंक पोटेशियम और मैग्नेशियम  के अच्छे स्त्रोत होतेहैं।  औरतो के  लिए यह              बहुत ही फायदेमंद होता है।  उनके  शरीर में आयरन की कमी को दूर करता है।

11) लौकी के जूस में काली मिर्च मिलाकर पिने से कफ में राहत मिलता है।

12) लौकी महिलाओ में लुकोरिया की समस्या को भी दूर करता है। एक कप लौकी का जूस रोज सेवन करने से       महिलाओ को बहुत सी समस्या का समाधान हो सकता है।

13) लौकी पुरुषो में स्वप्नदोष की समस्या भी दूर करता है।

14) लौकी की पतियों का रस निकलकर जिनको चरम रोग है लगाये तो वो समस्या भी दूर होती  है।

15) लौकी की जड़ो को निकालकर उबालकर उसका रस पिए तो खुलकर पेशाब होती है।

सावधानी

            कभी भी भूलकर  भी कडवी लौकी का  सेवन न करे वो हानिकारक होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: