leaf curl causes and treatment

लीफ कर्ल क्या है:

लीफ कर्ल एक कवक रोग ( टेफ्रिना डिफॉर्मन्स ) है जो पत्तियों और फलों पर हमला करता है। यह पत्तियों के बदसूरत पकने और विकृत होने का कारण बनता है, पत्तियाँ समय से पहले गिर जाती हैं और पौधों को गंभीर रूप से कमजोर कर देती हैं और फल उत्पादन को बहुत प्रभावित करती हैं। फल भी सीधे संक्रमित हो सकते हैं और समय से पहले गिर सकते हैं। 

लीफ कर्ल पौधों को होने वाली एक बिमारी है जिसको मरोड़ रोग चुरडा-मुरडा,बोकाडया आदि कई नामों से भिन्न भिन्न जगहों पर बोला जाता है.. थ्रिफ्स वाले पौधे को लीफ कर्ल नही कहा जाता है .न ही वायरस को लीफ कर्ल कहा जाता है आइये पहले जानते है थ्रिप्स वायरस माइट्रस लीफ कर्ल है क्या

थ्रिफ्स:

जब थ्रिप्स आता है तो नई पत्तियां आती है वो उपर की तरफ सिकुड़ने लगती है और निचे की पत्तिय वैसे ही रहती उनपर कोई खाश असर नही दीखता .मतलब थ्रिफ्स नई पत्तियों पर अटैक करते हैं

17 type free organic fertilizer

वायरस

उसके बाद जब वायरस आता है तो पूरे पौधे का विकास रुक जाता और पौधा खराब हो जाता है

माइट्स

माइट्स जब माइट्स का अटैक आता है तो पत्तियां निचे की तरफ मुड़ने लगती हैं .

लीफ कर्ल को कैसे पह्चाने :

जब आपके प्लाट पर बगीचे में पौधे की पत्तियां हलकी तिरछी दिखने लगे लपेटी हुई दिखने लगे कर्ली दिखने लगें तब समझिये की मरोड़ रोग (लीफ कर्ल) सुरु हो गया है पत्तियों का कर्ली हो जाना लीफ कर्ल की पहचान है

इस तरह से पौधों पर पहले लीफ कर्ल आता है और उसके बाद वो वायरस का रूप ले लेता है .जिसकी वजह से सारे पौधे खराब होने लगते हैं

वायरस कैसे आता है ?

ये सफ़ेद मक्खी (white flies) से आते है छोटे छोटे कीड़े मकोड़े होते है उनसे आता है मतलब की वायरस से इन्फेक्टेड प्लांट पर जो भी कीड़े या व्हाईट फ्लाई जाते है उनका रस चूसते है अगर वे दुसरे पौधे पर जायेगे तो वो वायरस वहां भी फैलायेगे ऐसे वो पूरा बगीचा या खेत वायरस से संक्रमित कर सकते है अगर समय रहते उनका इलाज नही किया गया तो व्हाईट फ्लाई से लीफ कर्ल बहुत तेजी से फैलता है

beetroot fertilizer for plant

कब बढ़ता है :

लक्षण

रोग की शुरुआत पौधों की नई उपरी छोटी पत्तियों का शिरा मोटा होना .

पत्ती का ऊपर/नीचे मुड़ना और मोटा होना

इसके बाद कप के आकार की पत्ती के लैमिनर का बनना,

जून से लेकर अक्टूबर नवम्बर तक व्हाईट फ्लाई बहुत तेजी से बढ़ता है उसके बाद गर्मियों में भी इनके लिए बहुत ही पोषक समय रहता है जब २८ से ज्यादा तापमान रहता है तो व्हाईट फ्लाई बहुत तेजी से फैलते हैं .3 type onion peel fertilizer

रोकथाम:

देसी उपाय

येलो स्ट्रेप

येलो स्ट्रेप लगाकर .येलो स्ट्रेप व्हाईट फ्लाई को आकर्षित करती है और जैसे ही व्हाईट फ्लाई उसपर जाएगी चिपक जाएगी.

Mili bug karan nivaran aur upay (मिलीबग समस्या, कारण,निवारण)

leaf curl causes and treatment

गेंदे का फूल :

अपने बगीचे या खेत में जहाँ भी व्हाईट फ्लाई का अटैक है वहाँ गेंदा के फूल के पौधे लगा सकते है उस फूल से आकर्षित होकर व्हाईट फ्लाई उसपर चली जाएगी और आप उन फूलों पर कोइ भी केमिकल दवा डालकर उन्हें ख़तम कर सकते हैं .

homemade citrus enzyme for plants growth

घास खरपतवार अगर आपके बगीचे या खेत में है तो उसे हटा दीजिये क्योंकि व्हाईट फ्लाई के अंडे घास में रहते है

घरेलु उपाय आर्गेनिक ट्रीटमेंट

हरी मिर्च में अदरक पीसकर छिडकाव कर सकते है

हरी मिर्च में गोमूत्र मिलाकर कर छिडकाव कर सकते है.

Banana peel fertilizer for plants (kele ke chilke ka fertilizer)

लहसुन से भी बहुत अच्छी इसकी दवाई बनाई जा सकती है बनाने की विधि है पुरे विस्तार ये यहाँ आपको बतायेगे

लीफ कर्ल दवाई बनाने की विधि 1

इस home made दवाई को बनाने के लिए आपको अपने घर से दो सामग्री की जरूरत पड़ेगी जो लगभग सभी के घरों में उपलब्ध होती है बनाने की विधि भी आसन है .

15 type vegitable grow with less sunlight

सामग्री

लहसुन :100 ग्राम

दही या छाछ :100 ग्राम

बनाने की विधी :

इस दवा को बनाने के लिए 100 ग्राम लहसुन की कली को छीलकर छिलका हटा देगे .अब लहसुन और दही को मिलाकर एक साथ मिक्सी में पिस लेंगे .इस मिश्रण को एक हफ्ते तक रख देगे एक हफ्ते बाद इसे चंक्र पानी में मिलाकर पौधों पर छिडकाव करेगे .ये मिश्रण लीफ कर्ल से पौधों का बचाव भी करता है अगर हो गया है तो पौधों को ठीक भी करता है

लीफ कर्ल दवाई बनाने की विधि 2

लहसुन अदरक और मिर्ची का पेस्ट बनाकर उसको पानी में मिलाकर उसका छिडकाव भी कर सकते है इसे बचाव के लिए भी 10 से -१५ दिन पर छिडकाव कर सकते है जिससे ये समस्या आएगी ही नही और अगर आ गई है तो पौधों का बचाव भी करेगी .

लीफ कर्ल दवाई बनाने की विधि 2

छाछ

छाछ से भी लीफ कर्ल का इलाज किया जा सकता है छाछ को ताम्बे के बर्तन में एक हफ्ते के लिए छोड दें जब ये खट्टी हो जाये और ताम्बे का अर्क आ जाये इसमें तो इसमें पानी मिलाकर छानकर पौधों पर छिडकाव कर दें .

3 type musturd cake fertilizer (Sarso khali ki khad)

जीन पौधे पर लीफ कर्ल है उसे उखाड़ कर फेक दे वरना और पौधों को भी नुकसान पहुचायेगा .अगर पौधा पूरी तरह से लीफ कर्ल के अटैक में आ गया तो वो सही नही होगा

3 type onion peel fertilizer

Leave a Reply

%d bloggers like this: