3 type onion peel fertilizer

onion peel fertilizer से आपकी बगिया फूलों और फलों से लद जाएगी .बगीचे या टेरेस के पौधों को उपजाऊ बनाने के लिए नेचुरल कम्पोस्ट खाद बनाने के बहुत से तरीके हैं। आप किसी स्टोर या सुपर मार्केट या नर्सरी से भी फर्टिलाइजर ला सकते हैं, लेकिन 100% नेचुरल चीजें ही मिट्टी को ज्यादा समय तक उपजाऊ बनाये रखती है

onion peel fertilizer

पुराने समय से ही फसलों के लिए कम्पोस्ट खाद का इस्तेमाल किया जाता रहा है। बाद में लोगों ने अधिक पैदावार के लिए सिन्थेटिक फर्टिलाइजर (खाद )का उपयोग शुरू कर दिया। इससे मिट्टी जल्दी उपजाऊ तो बन जाती है, लेकिन लंबे समय में नुकसानदेह और बंजर हो सकती है। क्योंकि केमिकल फ़र्टिलाइज़र मिट्टी के पोषक तत्वों को ख़त्म करती जाती है। और कुछ समय बाद मिटटी किसी काम की नही रह जाती है .सिन्थेटिक खादें असंतुलन पैदा करती हैं। इसके अलावा, वे अच्छे माइक्रोब और केचुओं को ख़त्म कर देती हैं।

प्याज तो हर घर में उपयोग होता है .अक्सर हम प्याज का उपयोग कर उसके छिलके फेंक देते है पुराने समय से ही मनुष्य द्वारा औषधीय प्रयोजनों के लिए प्याज का उपयोग किया जाता रहा है। तो अगर ये मनुष्य क लिए ईतना उपयोगी है तो पौधों क लिए भी उपयोगी होगा ही .बेहिचक हम इसका प्रयोग फलो और फूलों पर कर सकते है., इसमें शामिल सूक्ष्म और स्थूल तत्व बगीचे की फसलों पर भी सकारात्मक प्रभाव डालते हैं उनकी उपज बढ़ाते है , उन्हें बीमारियों से कीड़ों से सुरक्षा प्रदान करते हैं, उनकी उर्वरा शक्ति बढ़ाते है हैं.प्याज का उपयोग बगीचे क लिए एक चमत्कार से कम नही होगा प्याज के अंदर मौजूद तत्त्व पौधों को स्वस्थ और पोषण देगाऔर उनकी उपज बढ़ाएगा .

प्याज क छिलकों में कैल्शियम,पोटेशियम, फास्फोरस,मैग्नीशियम, जस्ता, सिलिकॉन, लोहा अच्छी मात्रा में पाए जाते है जो की पौधों के ग्रोथ के लिए बहुत अच्छा काम करता है हैं।प्याज के छिलके से उर्वरक का पौधों पर लाभकारी प्रभाव पड़ता है – यह जड़ को मजबूत करता है, कीटों से डरता है, मिट्टी की संरचना में सुधार करता है और अच्छा पोषण प्रदान करता है।

पौधों क अच्छे विकास उनके स्वस्थ रहने क लिए प्याज एक चमत्कारी उपाय है प्याज से फल और फूलों वाले पौधों में बहुत जल्दी अधिक मात्रा में फल और फूल लगने लगते है .जिन पौधों में फल और फूल नही लगते उनमे तो प्याज क छिलकों का प्रयोग जरुर करना चाहिए Banana peel fertilizer for plants (kele k chilke ka feertilizer) भी जिन पौधों में फल फूल नही लगते उसमे बहुत उपयोगी होती है

तो आइये जानते है कैसे हम प्याज के छिलके की लिक्विड फ़र्टिलाइज़र बना सकते है

तरल खाद (liquid fertilizer)

.प्याज के छिलके का लिक्विड फ़र्टिलाइज़र बनाने क लिए हमे 1 लिटर पानी में दो तीन प्याज क छिलके डाल देने है और उसे दो दिन के लिए वैसे ही छोड देना है .उसके बाद प्याज के छिलके वाले पानी में .एक लीटर और पानी मिलाकर पौधों में आवश्यकता अनुसार डाल देगे .इस पानी को आप पौधों के उपर स्प्रे भी कर सकते है इससे किट पतंगों से भी छुटकारा मिलता है .

कम्पोस्ट खाद( सूखी खाद )

दूसरी विधि में प्याज क छिलकों का कम्पोस्ट बना सकते है.कम्पोस्ट बनाने क लिए प्याज क छिलकों को एक कम्पोस्ट के बर्तन में डालते जाये जब भी प्याज क छिलके डाले एक लेयर मिटटी की भुरभुरा दे ऐसे ही जब कम्पोस्ट बिन भर जाए तो कुछ महीने के लिए खाद बनने के लिए छोर दे कुछ महीने बाद आपको खाद बनकर तैयार मिलेगी वो भी एकदम फ्री में. और उसे अपने पौधों में उपयोग कर सकते है.

सूखे छिलकों की पाउडर खाद

या फिर छिलकों को सुखाकर पिस कर डायरेक्ट मिटटी में मिला सकते है जिससे वो मिटटी में धीरे धीरे अपने पोषक तत्त्व मिटटी को देता रहेगा .

अगर तुरंत रिजल्ट चाहिए तो लिक्विड फ़र्टिलाइज़र सबसे बढ़िया है वो तुरंत जड़ों में जाकर पौधों को एनर्जी देता है .

उर्वरक के रूप में प्याज का छिलका “रसायन” का एक बेहतरीन विकल्प है। यह एक पर्यावरण के अनुकूल, उपयोगी और पूरी तरह से मुफ्त खाद है।

6 thoughts on “3 type onion peel fertilizer

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: